Enter Password - 7 Payal Sakariya દ્વારા પુષ્તક અને વાર્તા PDF

Featured Books
શેયર કરો

Enter Password - 7

( हमने देखा था कि इस तरफ रोहन को एक फोन आता है, रोहन कहता है ये मुझे क्यूं फोन कर रही है ....? ) अब आगे......

रोहन फोन उठाता है। तभी सामने से सिया कहती हैं- हेलो सर दो दिन पहले आपने हमारी Art gallery से एक painting खरीदी थी। वो शायद दुसरी पेक हो गई थी , जो शायद आपने अभी तक देेेखी नही होगी इसलिए आपको इस बारे में पता नहीं चला होगा । तो अगर आप चाहें तो उसे change करवा सकते हैं । रोहन कहता है मेने देखी है लेकिन वह भी अच्छी है , इसलिए हमें उससे कोई दिक्कत नहीं है। सिया मन ही मन बोलती है कि लेकिन मुझे वो वापस चाहिए अब इसे कैसे समझाऊं ….? उस तरफ से रोहन बोलता है, हेलो कोई सुन रहा है …? सिया कहती है हां सर पर ये हमें शोभा नहीं देता ये हमारे लिए एक जवाबदारी है कि आप को आप ने जो मांगा वहीं देना चाहिए। रोहन कहता है ठीक है , में कल आके painting change करवा लुंगा । सिया कहती है ९ बजे आप आ जाना में आपकी राह देखूंगी । रोहन सोचता है अब इसी बहाने उससे मुलाकात तो हो जाएगी । सिया सोचती है ये customer इतना अच्छा , हमारी भुल है , फिर भी कुछ कहा नहीं । फिर खुद से कहती हैं सिया लगता है ये तुफान के पहले आने वाली शांति है । और कहती हैं हे भगवान वो आकर कोई बवाल न मचाएं।


दुसरे दिन जब रिया ओफिस जा रही होती हैं तो देखती है कि राइमा painting पेक कर रही थी। रिया उसे पूछती है - राइमा ये तो भाई लेकर आए थे वो painting हे , राइमा कहती हां दीदी मुझे पता है । रिया पुछती है अगर तुम्हें पता है तो इसे दिवार पर लगाने कि बजाय तुम उसे पेक क्यों कर रही हो ...? राइमा कहती हैं दीदी , भैया ने कहा मुझे इसे पेक कर दो तो बस वही कर रही है । रिया पुछती है भाई उठ गए हैं ..? राइमा - अरे दीदी कबके उठ गए हैं। रिया रोहन के रूम में जाती है । रोहन आईने में देख कर तैयार हो रहा था और गाना गुनगुना रहा था। रिया कहती हैं ओ मेरे प्यारे राम भाई क्या सिया की खोज में जा रहे हो …! रोहन कहता है क्या तुम भी हर बार एक ही बात पर ध्यान केंद्रित करती है ....? वैसे तो आज में सिया से ही मिलने जा रहा हूं 😜। वाह ..... भाई मिलने के लिए painting change करवाने का बहाना अच्छा है। हां..... अब अपना जासूसी दीमाग इन चीजों में लगाओ । रिया कहती हैं good luck आपकी 1st meeting के लिए। राइमा रुम में आकर कहती हैं , भैया ये लिजिए पेक हो गई। रोहन वह painting लेकर सिया की Art gallery पहुंचता है। सिया कहती है - आइए में आपकी ही राह देख रही थी। और I'm really sorry for my mistake 🙁 रोहन कहता है - अरे कोई बात नहीं । वो दुसरे paintings लाकर रोहन को दिखाते हुए कहती हैं - ये सभी देखिए आप को इनमें से जो भी पसंद आए वो आप ले सकते हैं । रोहन एक दिखाते हुए कहता है - यह painting पेक कर दिजिए ये अच्छी है । सिया वो painting लेकर पेक करने ले जाती है । रोहन कहता है इस बार सही painting pack करना वरना ..... दोनों हंसते हैं। रोहन कह रहा था - आपकी ये painting रखने की style अच्छी है । देखकर ही लेने का मन बना जाता है। सिया हंसकर कहती हैं , तो बताओ आप के कितने orders लिखुं ...? रोहन भी हंसता है ।।😊 तभी फोन की रिंग बजती है , रोहन उठ जाता है और देखता है। प्रकाश सर का फोन ,वो फोन उठाता है । सामने से सर ताना मारते हुए कहते हैं , अगर सपने में case solve हो गया हों तो जरा इधर बता देना । रोहन फोन में समय देखता है- it's a 9:30 . रोहन कहता है लड़कियां सिर्फ सपने में ही भोली हो सकती हैं । हकीकत में तो बात ही मत पुछो ..... फिर जल्दी से उठ जाता है। और ओफिस जाने के लिए तैयार हो कर निकल जाता है। इस तरफ सिया रोहन के आने की राह देख रही थी। उसने आरव से वादा किया है कि वो जल्द ही वो painting उसे देगी।


उस तरफ अमित सर घड़ी में बार-बार समय देख रहे थे। और एक नजर दरवाजे पर तो दुसरी नजर parking lot के CCTV Camera पर फिर रही थी ‌ । तभी उन्हें peon आकर कहता है- सर सभी meeting hall में आ गए हैं। बस आपके आने की ही राह देख रहे हैं । अमित सर कहते ठीक है । तुम चलो में आता हु। अमित सर सोचते हैं कि रोहन कभी ऐसा नहीं करता। हर बार उसका रिपोर्ट समय से पहले ही मिल जाता है । और वो मिंटिग के लिए जाते हैं। जैसे वो अंदर जाते हैं, रोहन ओफिस में आता है । रोहन सीधा अमित सर की ओफिस में जाता है। जाकर देखता है तो वहां कोई नहीं था। वो दुसरे को पूछता है , वो कहता है कि - सर अभी थोड़ी देर पहले ही मिंटिग के लिए अंदर गए हैं। रोहन बिना कुछ कहे जल्दी से without permission. अंदर घुस जाता है । सभी उसके सामने देखते ही रह जाता है । वो सर को कहता है सर मुझे आपके बस दस मिनट चाहिए। अमित सर सबको कहते हैं excuse me I'll be back in 10 minutes . कहकर रोहन के साथ उनकी ओफिस में जाते हैं। पहले तो वह रोहन पे गुस्से होकर कहते हैं , U don't have the manners ...?? Sorry सर में जानता हूं पर आपको रिपोर्ट देना भी जरूरी है वो अपना रिपोर्ट रखकर कहता है सर it's an murder . वो pendrive चढ़ाकर कुछ फोटो दिखाता है । और कहता है सर में वही सभी अलग - अलग देश के Application Installer है जिनका murder करके इसे Accident बनाया गया है । अमित सर पूछते हैं -कुछ पता चला किसने किया ...??? सर लेकिन हमेें अब पहले पता करना होगा की ये सभी खून का reason क्या है ! ये पता करने के लिए हमें , सबसे पहले इस Application के बारे में जानकारी लेनी होगी। और उसके लिए आपकी permission लेनी होगी । और Application installation के office से भी हमें मदद यानी की जानकारी लेनी होगी। अमित सर कहते हैं में बात कर लुुंगा। तुम्हें information मिल जाएगी । रोहन कहता है Thanks sir and sorry वो आगे बोल रहा था तभी अमित सर घड़ी में देेेेखकर कहते है - it's 10: 40 your 10. Minute is over ..... रोहन कहता है ठीक है सर कहकर वो निकल जाता है वो जय को फोन करके पूछता है कहा हो ....? जय कहता है सर एक केस में busy हूं । it's an animal Accident । रोहन कहता है ठीक है , बाद में मुुझसे मिलना । रोहन Application installation office फोन करके बात करता है - Hello sir , we need a information about one application , will u please send us information .....? सामने से सर कहते हे - ok.. में तुम्हें रिया से contact करवाता हूं। वो तुम्हें सभी information दे देगी । रोहन कहता है ok sir ..... Thanks .... कहकर फोन काट देता है ।