समझता ही नहीं वो मेरे अलफ़ाज़ की गहराई मैंने हर लफ्ज़ कह दिया जिसे मोहब्बत कहते है.....

દીકરી એટલે ઈશ્વર ના આશીર્વાદ નહી
દિકરી એટલે આશીર્વાદમાં મળેલ ઈશ્વર.....
Happy Daughter Day 💗

-Zainab Makda

निभानेवाला हमारी हजार गलतियां भी माफ कर देता है....
और छोड़ने वाला अनजान गलती के लिए भी छोड़ देता है...

-Zainab Makda

વધુ વાંચો

ऐसी क्या गलती कर दी हमने कि तुम खफा हो गए...
हाँ हो गयी गलती मुझसे में मानती हूँ
मोहब्बत हो तो ये गलतियाँ दिखती नहीं हैं...
किस अनजान गलती की सजा दे गए तुम हमें..

-Zainab Makda

વધુ વાંચો

जिस गलती की तुम मुझे दे रहे हो सजा
उस गलती की मुझे अब दे भी दो वजह...

-Zainab Makda

जब यार करे परवाह मेरी
मुझे क्या परवाह इस दुनियां की...
💞💞

-Zainab Makda

तुमसे शिकायत भी है
और
प्यार भी है....

तेरे आने की उम्मीद भी नही
और
तेरा इंतजार भी है...

-Zainab Makda

बड़ा नायब रिश्ता है
उसका और मेरा
ना में शामिल हु उसके अपनो में
ना वो शामिल है मेरे गैरों में

-Zainab Makda

दिल टूटा है संभलने मे कुछ वक़्त तो लगेगा साहब
हर चीज इश्क़ तो नहीं की एक पल में हो जाए...
किसी से कभी कोई उम्मीद मत रखना
क्योंकि उम्मीद हमेशा दर्द देती है....

વધુ વાંચો

करे किसका एतबार यहां
सब अदाकार ही तो है

और गिला भी किससे करें
सब अपने यार ही तो है...

-Zainab Makda

अच्छा हुआ जल्दी बदल गए तुम
वरना मेरी उम्मीदें बढ़ती ही
जा रही थी...
💔

-Zainab Makda