Hey, I am reading on Matrubharti!

ताउम्र जलते रहे हैं धीमी आंच पर,
तब जाकर ये चाय और इश्क़ मशहूर हुए है।


VISHXL

चेहरा बता रहा कि "भूख" से मरा है
लोग कह रहे" कुछ खाकर" मर गया


VISHXL

be happy😜

दोस्त, किताब, रास्ता, और सोच,
ये चारों जो जीवन में सही मिलें तो,
ज़िंदगी "निख़र" जाती है
वर्ना "बिख़र" ज़ाती है।



VISHXL

વધુ વાંચો

हर रोज़ हमारे लिए खास होती जा रही है,
चाय से मोहब्बत हमें बेहिसाब होती जा रही है ....
#☕️
#❤

हाँ", चाँद भी....!!
काजल लगाता है
मैंने देखा है उसकी ♥️आँखों में झांक कर !!
vishxl

निकले है वो लोग मेरी शख्सियत संवारने


जिनके खुद के किरदार
मरम्मत मांग रहे है


Vishxl

गिरना अच्छा है
औकात पता लगती है
हाथ थामे रखने वाले कितने है
ये बात पता लगती है



VISHXL