insta id-tasleem_shal

एक बात बोलू......

जब तक जिंदा है न,
क़द्र और फ़िक्र कर लिया करो जनाब....

मरने के बाद तो दुश्मन भी,
जनाज़े में अश्क़ बहा लिया करते है।।।

વધુ વાંચો

वक़्त के पन्ने पलट रहे है जनाब.....
ज़रा संभाल कर रहना।
यहाँ अपने और परायो की पहचान करवाने के लिए,
ख़ुदा मौत का सौदा किए जा रहा है।।

વધુ વાંચો

मत पूछो इन बहते अश्को की वजह जनाब.....
ये उस टूटे दिल की दास्तान बयां कर रहे है,
जो कई गहरे ज़ख्म छुपाए बैठा है।।

વધુ વાંચો

न जाने क्यों लोग सच्ची दोस्ती छोड़,
उस महोब्बत को चुनते हैं जनाब......
जिस महोब्बत की मंजिल ही अधूरे अल्फ़ाज़ों से बनी हैं।।

વધુ વાંચો

ये दोस्ती की भी,
बड़ी अजीब राहे होती है ज़नाब....
शुरुआत अजनबी से होते हुए,
मंजिल महोब्बत पर आकर खत्म होती है।।

વધુ વાંચો

किसी ने पूछा कैसे हो??

इन होठों ने हँस कर कहा,
बहोत खुश।।

और तब से ये आँखे नाराज़ हो कर बैठी है।।

एक बात बोलू......

जिसे सबसे ज्यादा इज्ज़त दोगे न,
वही इंसान आपको सबसे ज्यादा बेइज्ज़त करेगा।।

कुछ गहरे ज़ख्म,
दिल मे छुपाए बैठे है....
और जमाना हमें मुस्कुराता देख,
सोचता है जनाब.....
ये दर्द क्या है इसे क्या मालूम????

વધુ વાંચો

किसी ने पूछा....
क्या सीखा इस जमाने से???
हमने मुस्कुरा कर कहा जनाब.....
जिसे इज्जत देकर महान बनाया,
उसी से अपनी इज्जत का तमाशा बनते देखा।।

વધુ વાંચો

इस दिल के साथ कुछ यूं खेला उसने....
जिस नाम से कभी महोब्बत थी,
आज उस नाम से नफरत हो गई।।