दर्द लिखती गयी मज़ाक बनता गया....

टूटे हुए सपनो और
छूटे हुए अपनो ने
मार दिया,
वरना खुशी खुद
हमसे मुस्कुराना
सीखने आयी करती थी#JK ❤️

दुनिया तो 'एक' ही हैं...
फिर भी 'सबकी' अलग अलग हैं#JK ❤️

अब जब भी दर्द होता हैं ना तब,,
एक ही लाइन खुद को बोलनेका मन करता हैं,
छोड ना यार क्या फर्क पड़ता हैं?...#JK ❤️

मैं कुछ नई करती,
फिर भी साला,,
लोगो को मुजसे शिकायत रहती ही हैं#JK ❤️

सपना टूटा हैं तो दिल कभी जलता हैं,
हा,,
थोड़ा दर्द हुआ पर चलता हैं..#JK ❤️

"ना चांद अपना था,
ना तु अपना था,
काश यह दिल भी मान ले
की सब सपना था"..#JK ❤️

जमाना बदल रहा हैं.
अब खयालात भी बदलेंगे,

रिश्ते वहीं रहेंगे बस.
उन्न रिश्तों के नाम बदलेंगे,

अगर यकीन नहीं मुज पर.
तो एतबार करके देख सबका,

ऐसे लोग भी हैं तेरे साथ.
जो तेरे हालात के साथ साथ बदलेंगे!!#JK ❤️

વધુ વાંચો

મૃત્યુ પછી ક્યાં કોઈ ભાગે છે?
તેમ છતાંય લોકો મડદાંને
પણ બાંધે છે..!#JK ❤️

यार था रूठ गया,
मौन था टूट गया,
साथ था छूट गया,
वादा था वो टूट गया#JK ❤️

किसने कहा शायरी लिखना
आसान काम हैं..?
जिगर चाहिए अपनी बर्बादी
लिखने के लिए...#JK ❤️