Don't DM

~सही गलत का कोई अक्स नही होता,
सच ये है कि सच का कोई पक्ष नही होता~
#પક્ષ

~जीवन के इस खेल मे हर किरदार बदलता रहेगा,

फेंके हुये पासे पर हर शख्स चलता रहेगा*~


#પાસું

हर दस्तक पे तेरी ही आहट सुनता है,
विचलित ये चीत् कैसे कैसे ख्वाब बुनता है.~
#વિચલિત

आंखों में हमने आपके सपनों को सजाया है
पलकों पे बिठाया है दिल में बसाया है
#આંખો

*એ.સી. રૂમ માં બગાસા રમે છે સંતાકૂકડી,*
*સામે ફૂટપાથ પર ઉંઘની મેહફીલ જામી છે!*

*जिस दिन आपने अपनी जिन्दगी को खुलकर जी लिया,*
*वही दिन आपका है, बाकि तो सिर्फ केलेंडर की तारीखें हैं।~