यह वक्त भी गुजर जाएगा ...

अक्सर बारिश का मौसम हमे खामोश कर देता है,

कुछ उलझे हुए अलफ़ाज़ को जैसे फिरसे भिगा देता है.

#osamm

उसका साथ होने या न होने से फर्क नहीं पड़ता,
फर्क पड़ता है तो सिर्फ उसके एहेसास से.

#osamm

आकर पास हमारे वह कुछ ख़ास कह गये,

मतलब पूछा तो, शर्माकर ज़िंदगी हमारे नाम कर गए.

#osamm

હું એ સમય નો આભારી, કે જેને મને સાચા ખોટા ના પારખા કરાવ્યાં.

#osamm
#આભારી

क्यों संभाल कर रखते हो इतना खुद को,
जब बिखर कर ही तुम्हारा वजूद है।

#osamm

Teri muskan k piche ka dard na koi smj paya,
Diya tune jisko sath woh logo ko vishvaash na aya,

Chhod gya pal bhar mai uhi tu hum sab ko,
Ye zindgi ka khel tu q na khel paya.

#osam

એ નિર્દય એ પણ પ્રેમ કર્યો ...
પણ, એકરાર ની તાકાત ન હતી.

#નિર્દય
#osam

शोख से वह बरसा, दिल तक भीग गया,
बंज़र से ख्वाबो को, फिरसे महेका गया.
#osam

R.I.P

तेरी अदाकारी को न भूल पायेंगे,
क्योकि, तेरी सख्शियत है कुछ ख़ास ...
इसी लिए तुम्हे सब अपने दिलो मे जिंदा रखेंगे.

#osam

વધુ વાંચો